Thursday, May 14, 2009

वरुण पूत के पावँ पालने में नज़र आए

एक भाजपाई
ओये झाल्लेया त्वाडे प्रदेश में ये कया जुल्म हो रहा है बालक वरुण गांधी पर जबरदस्ती रासुका लगा कर उस बेचारे को लोक सभा क पहले चुनाव में ही सीखचों के पीछे डालकर पूत को पालने मे ही ख़त्म करने की कौशिश की जा रही है भला हो सुप्रीम कोर्ट का जिन्होंने बच्चे पर से रासुका हटा कर गांधी को एक बार फिर निशाना बनने से रोक दिया
झल्ला
आपके बालक ने रासुका का चोला ओउड़ कर देश प्रसिद्धी तो प्राप्त कर ही ली हैअब रासुका क आवरण की जरूरत ही कया है?रहा चुनावी खर्च तो चतुर सुजान वरुण ने माया सरकार पर १० लाख का दावा भी ठोक दिया है
भापा जी आपके पूत के पाँव पालने में नज़र आने लग गए है

3 comments:

BK Chowla said...

The biggest mistake the state made was to have slapped NSA.His could have beenhandled differently under the noemal penal provisions.May be Maya's team took a wrong decision.Varun has reached a stage one normally would have taken years to acheive.
Vinaash kalen viprut buddhi

mark rai said...

sahi kaha ab rasuka ki jarurat hi kya hai....

Everymatter said...

ab nsa bakar hai

varun jeet jo gaya hai

vaisa bh yeh politics hai ji